मैथिलि फिल्म “राखी के लाज” बहुत जल्दी आबै रहल अछि दर्शके के दिल जितैले

अशोक  कुमार सहनी ,ऑनलाइन सिरहा डटकम
समस्तीपुर के आनंद प्रोडक्शन के बैनर में बैनरहल मथिली फीचर फिल्म “राखी के लाज” के शूटिंग सफलतापूर्वक संपन्न भेल अछि | ई सिनेमा के शूटिंग 27 अक्टूबर 2015 के शुरू केल गेल छेल| स्थानीय कलाका के अभिनय से सजल ई फिल्म येहे साल के अंत तक ई फिल्म रिलीज़ होई के सम्भावना अछि | ई फिल्म औरत सशक्तिकरण पर आधारित अछि।

ई फिल्म के निर्देशक नरेश मंडल ग्राम दशौथ जिला समस्तीपुर के निवासी अछि| श्री मंडल अपन बहुमूल्य समय फिल्म नगरी मुंबई में बहुत नीक बैनर के साथ काज कके अनुभव प्राप्त केने अछि | नरेश जी अपन कुशल निर्देशन से फिल्म के भली भांति सजेने अछि, फिल्म के कहानी के लेखक आशुतोष सागर अछि। आ ओकरे लिखल गीत के संगीत से सजेने अछि प्रमोद, रोहित और मनीष जी |
छायांकन पवन मिश्रा के अछि। इसके सह निर्देशक ख़ुशी यादव, कार्यकारी निर्माता राम रसीला, प्रोडक्शन हेड प्रभात रॉय अछि|


फिल्म के मुख्य कलाकार के रूप में राम रसीला, आशुतोष सागर, कंचन सिंह, मंजू दुबे और सब काम केने अछि | समाज में औरत पर भरहल अत्याचार के खिलाफ नारी सशक्तिकरण के किरदार कर्णप्रिय गीत संगीत के साथ साथ फिल्म के माध्यम से मैथिलि भाषा में लोग के बीच पहुचाबैके के प्रयास केल गेल अछि | ई फिल्म दर्शके के खूब मनोरंजन करैत |

मैथिलि फिल्म “राखी के लाज” बहुत जल्दी आबै रहल अछि दर्शके के दिल जितैले

अशोक  कुमार सहनी ,ऑनलाइन सिरहा डटकम
समस्तीपुर के आनंद प्रोडक्शन के बैनर में बैनरहल मथिली फीचर फिल्म “राखी के लाज” के शूटिंग सफलतापूर्वक संपन्न भेल अछि | ई सिनेमा के शूटिंग 27 अक्टूबर 2015 के शुरू केल गेल छेल| स्थानीय कलाका के अभिनय से सजल ई फिल्म येहे साल के अंत तक ई फिल्म रिलीज़ होई के सम्भावना अछि | ई फिल्म औरत सशक्तिकरण पर आधारित अछि।

ई फिल्म के निर्देशक नरेश मंडल ग्राम दशौथ जिला समस्तीपुर के निवासी अछि| श्री मंडल अपन बहुमूल्य समय फिल्म नगरी मुंबई में बहुत नीक बैनर के साथ काज कके अनुभव प्राप्त केने अछि | नरेश जी अपन कुशल निर्देशन से फिल्म के भली भांति सजेने अछि, फिल्म के कहानी के लेखक आशुतोष सागर अछि। आ ओकरे लिखल गीत के संगीत से सजेने अछि प्रमोद, रोहित और मनीष जी |
छायांकन पवन मिश्रा के अछि। इसके सह निर्देशक ख़ुशी यादव, कार्यकारी निर्माता राम रसीला, प्रोडक्शन हेड प्रभात रॉय अछि|


फिल्म के मुख्य कलाकार के रूप में राम रसीला, आशुतोष सागर, कंचन सिंह, मंजू दुबे और सब काम केने अछि | समाज में औरत पर भरहल अत्याचार के खिलाफ नारी सशक्तिकरण के किरदार कर्णप्रिय गीत संगीत के साथ साथ फिल्म के माध्यम से मैथिलि भाषा में लोग के बीच पहुचाबैके के प्रयास केल गेल अछि | ई फिल्म दर्शके के खूब मनोरंजन करैत |

असोज ३ : मधेशी मोर्चा आ एमालेसंगे झगड़ा होइके सम्भावना

✍अशोक कुमार सहनीअपन मिथिला, ३१ गते भदौ । 
संविधान घोषणा भेल दिन असोज तीन (३)गते संयुक्त लोकतान्त्रिक मधेशी मोर्चा काला दिन मनाबै के आ प्रदर्शन करैके निर्णय कचुकल अछि । यत बेरस्पतै दिन नेकपा एमालेके स्थानीय समिति बैठकसँ अजोस तीन गते संविधान दिन धूमधाम के साथ मनाबै के निर्णय केलक।
मधेशी मोर्चा असोज दुई गते सँ रंग-बिरंग के कार्यक्रम करैके  चार(४) गते तक विरोध करैके निर्णय कचुकल अछि ।
एमाले असोज तीन गते पूरानेपालमें ओहो रंग-बिरंग के कार्यक्रमसाथमे जुलुस प्रर्दशन करैके सचिव प्रदिप ज्ञावाली जानकारी करोने अछि ।
असोज तीन गते मधेशी मोर्चा सेहो  सदरमुकामसबमे जुलुश आ सभा कके विरोध करत आ एमाले सेहो करत ओहि टाइम में जुलुस और सभा करत तब बहुत ठाम में झगड़ा होइके सम्भावना रहल अछि ।
यत काठमाडौंमें सेहो मधेशी आ एमाले कार्यकर्ताबीचमें झगड़ा भस्कैय । असोज तीन गते मधेशी युवासबके अगुवाईमें मधेशी समाजके व्यानरमें काठमाडौंमें प्रदर्शन हेत । ओहि दिन एमाले काठमाडौंके बहुत ठामसँ ढोल-पिपिहि के साथ प्रदर्शन करैत शान्तिबाटीका पुगत। दुपहर के २ बजे बसन्तपुरमें पार्टी अध्यक्ष केपी ओली सम्बोधन करैवाल अछि।

भारतमें एसिड आक्रमण करैवलाके मौत के सजा देलक

अन्तर्राष्ट्रिय समाचार

भारतमें एसिड आक्रमण करैवलाके मौत के सजा देलक

एजेन्सी

✍अशोक कुमार सहनी

भारतमें एक लड़की के ऊपर एसिड आक्रमण केने एक गोटे के मौत के सजाय सुनेने अछि । तीनसाल पहिले  उमेर २३ के प्रिती राठी ऊपर मुम्बईके बान्द्रा रेल्वे स्टेशनमें एसिड आक्रमण केने उमर २५के  अङ्कुर पन्वरके मुम्बईके एक अदालत मृत्युदण्डके सजाय सुनेलक।

एसिड आक्रमणके कारण फोक्सो आ आखाँमें गम्भिर चोट लागल प्रितीके घटनाके एक महिनाबाध इलाजके क्रममें  मौत भेल छेल। अङ्कुर प्रहरी समक्ष विवाहके प्रस्ताव नै मानलक तब प्रितीमा ऊपर आक्रमण केलो से बयान देने छेल ।

प्रिती दिल्ली सँ भारतीय जलसेनाके नर्समें भर्ना होइले मुम्बई ऐल समय पड़ोसी अङ्कुर ओकरा ऊपर आक्रमण केने छेल  । उ घटनाके बाध भारतके सर्वोच्च अदालत संघीय आ राज्य सरकारके एसिड बिक्रिबितरणमें रोक लगाबैके  आदेश देने छेल ।

और अदालत आधिकारीके परिचय भेल आदमी सबके मात्र एसिड बेचै के कहने छेल तबसे भारतमें कुछ समय सँ एसिड आक्रमणके घटना कुछ घटल  से बतोलक अछि।।

मैथिली, भोजपुरी, मगही और अंगिका को जल्द मिल सकता है द्वितीय राजभाषा का दर्जा

मैथिली, भोजपुरी, मगही और अंगिका भाषाओं को झारखंड की द्वितीय राजभाषा बनाने की सालों से चली आ रही मांग को लेकर राज्य सरकार काफी गंभीर है और जल्द ही इस पर कोई बड़ा फैसला होगा. मुख्यमंत्री रघुवर दास ने जमशेदपुर में ये घोषणा की है. वे अंतर्राष्ट्रीय मैथिली परिषद के कायक्रम मिथिला दिवस सह मिथिला नववर्ष के मौके पर लोगों को संबोधित कर रहे थे, जहां उन्होंने ये बात कही. मुख्यमंत्री ने कहा कि झारखंड की संस्कृति काफी खुली है जहां सभी प्रकार की संस्कृतियों के लिए पूरी जगह है.
मुख्यमंत्री ने कहा कि इस सरकार के कार्यकाल में झारखंड में मौजूद सभी भाषा-भाषी-संस्कृतियों के वेलफेयर का ख्याल रखा जाएगा. कार्यक्रम में मंत्री सरयू राय भी उपस्थित थे. संबोधन से पहले मुख्यमंत्री रघुवर दास और मंत्री सरयू राय ने संयुक्त रूप से मैथिली भाषा और संस्कृति से संबंधित अशोक अविचल की दो पुस्तकों का विमोचन किया.साथ ही अंतर्राष्ट्रीय मैथिली परिषद के औपचारिक वेबसाइट का भी उद्घाटन किया. कार्यक्रम में बड़ी संख्या में मैथिली भाषियों ने शिरकत की और मुख्यमंत्री की ताजा घोषणा से काफी खुश दिखे.

विराटनगर केर पारंपरिक मिथिला समारोह बनि गेल अछि जितिया पर्व समारोह: ई. रमाकान्त झा

jitiya 2072विराटनगर, अक्टुबर ७, २०१५.
विगत किछु वर्ष सँ मैथिलानी वसुन्धरा झा केर नेतृत्व मे आयोजन कैल जा रहल मैथिल-मधेशी-थारू महिलाक विशेष पूजा-अर्चनाक परिचायक ‘जितिया पर्व समारोह’ धीरे-धीरे विराटनगर जेकरा मोरंग आ पूर्वी नेपालक राजधानी मानल जाएत छैक ताहि ठाम पारंपरिक मिथिला समारोह केर स्थापित पहिचान भेट गेल अछि – ई बात कहलनि जितिया पर्व समारोह २०७२ केर प्रमुख अतिथि वरिष्ठ समाजसेवी एवं बुद्धिजीवी ई. रमाकान्त झा।
निश्चित रूप सँ वसुन्धरा झा एकटा सृजनशील मैथिलानीक रूप मे स्वयं मे एक संस्था रहबाक कला केँ बेर-बेर प्रमाणित करैत रहली अछि। एहि बेरुक समारोह केर आयोजन अत्यन्त बिपरीत आर प्रतिकूल वातावरण मे करबाक चुनौती केँ सामना करैत – मिथिला-मैथिली-मधेशक सांस्कृतिक पहिचान नहि मेटाय देबाक भार उठेली। पूर्ण रूप सँ असगर नेतृत्वक बागडोर अपना हाथ मे लैत घर-गृहस्थी आ धिया-पुताक पोषण-संभारण करैत ओ जाहि तरहें ‘मुण्डे-मुण्डे-मतिर्भिन्ना’ आ ‘खण्डी बुद्धि’ लेल प्रसिद्ध मैथिल परिवारक महिला, पुरुष, समाजसेवी आदि केँ संङोरैत काज करैत छथि, ई हुनकर कर्मठता आ प्रतिबद्धता केँ सेहो प्रमाणित करैत अछि। एहि बेरका आयोजन लेल दुनू प्राणी दिन-राति खटैत अन्ततोगत्वा एकटा भव्य समारोह केर आयोजन पूर्व परिचित स्थान महेन्द्र मोरंग कैम्पस केर प्रांगण मे, दसों हजार मैथिल केर उपस्थिति मे संपन्न केलनि। विराटनगर मैथिल समाज लेल ई एकटा विशेष गर्व केर परिचायक कार्यक्रम भेल, यैह चर्चा सब तैर कैल जा रहल अछि।
6पैछला शनि दिन यानि ३ अक्टुबर संपन्न एहि भव्य समारोह केर उद्घाटनग दीप प्रज्ज्वल करैत प्रमुख अतिथि ई. रमाकान्त झा द्वारा कैल गेल छल। तहिना एहि विशिष्ट समारोह मे विशिष्ट अतिथिक रूप मे सहायक प्रमुख जिला अधिकारी प्रदीप कँडेल केर संग प्रसिद्ध उद्योगपति-समाजसेवी ताराचन्द खेतान एवं मानव अधिकारकर्मी संजू साह केर उपस्थिति छल। आभा अनुपमा समान महिला अधिकारकर्मी, प्रेम सोनम समान कलाप्रेमीक संग आरो बहुत रास अतिथि लोकनिक संग ई आयोजन पूर्ववत् भव्यताक संग आयोजित कैल गेल छल।
सुप्रसिद्ध गायक विरेन्द्र झा केर मधुर आवाज मे गोसाउनि गीत ‘जय जय भैरवि’ सँ सांस्कृतिक कार्यक्रम केर शुरुआत कैल गेल छल। मैथिली कला व मिथिलाक लोक संस्कृति केर आजन्म सेवा कएनिहार सुप्रसिद्ध नृत्य निर्देशक स्व. चतुर्भुज आशावादी द्वारा स्थापित लोकप्रिय संस्था ‘भानु कला केन्द्र’ केर कलाकार सब द्वारा झिझिया, नट-नटिन आदि लोकनृत्य प्रस्तुत कैल गेल छल। मैथिली लोकगीत ‘एहि ठिना टिकुली हेरा गेलय दैया गै’ पर सेहो एकटा अत्यन्त रोमांचक-मनोरंजक नृत्य केर प्रस्तुति भेल जेकर सराहना हजारों दर्शक जोरदार थोपड़ी आ युवा-युवती द्वारा मैदान मे मंचकेँ संग दैत नृत्य करैत कैल गेल छल।
7देव समाजक कला-संस्कृति प्रतिष्ठान – विराटनगर केर सेहो मंचीय प्रस्तुति मे सहभागिता छल। एहि प्रतिष्ठानक कलाकार द्वारा विभिन्न मैथिली गीत पर नृत्य केर प्रस्तुति समावेश कैल गेल छल कार्यक्रम मे। तहिना मैथिली संचार केर सुपरिचित नाम श्रीमती राधा मंडल केर अध्यक्षता मे संचालित मैथिली सांस्कृतिक मंच – विराटनगर केर कलाकार लोकनि द्वारा हास्य-प्रहसन केर प्रस्तुति कैल गेल छल। संपूर्ण कार्यक्रम केर संचालन सेहो स्वयं राधा मंडल आ संङोर नाटकक लेखक तथा मिनाप-जनकपुर कलाकार प्रकाश प्रेमी द्वारा भेल।
एहि गरिमामय कार्यक्रम मे मैथिली पत्रकारिता सँ जुड़ल अनेको पत्रकार स्रष्टा लोकनि केँ सम्मानित सेहो कैल गेल छल। सम्मानित पत्रकार समाज मे मकालू टेलिविजन सँ नविन कर्ण, हिन्दुस्तान केर जोगबनी प्रतिनिधि वरुण मिश्र, उज्यालो दैनिक केर जितेन्द्र ठाकुर, कान्तिपुर राष्ट्रीय दैनिक केर अबधेश झा, नागरिक – पूर्वेली केर संपादक अजित तिवारी आर नागरिक एफ एम केर निर्देशक अरविन्द मेहता शामिल छलाह। तहिना मैथिल महिला समाज केर उत्थान मे निरंतर योगदान देनिहारि मैथिलानी वंदना चौधरी, रिंकी झा, माफी झा, संझा यादव, सरिता झा, राधा मंडल तथा मीना झा केँ सम्मानित कैल गेल।
9आयोजक समिति केर सक्रिय सदस्या लोकनि द्वारा प्रत्यक्ष सांस्कृतिक कार्यक्रम केर प्रस्तुति सेहो दर्शक लोकनि द्वारा खूब प्रशंसित भेल। स्वागत गीत रिंकी झा तथा रंजना झा द्वारा प्रस्तुत कैल गेल। मैथिली लोकगीत संग प्रीति झा मंच पर प्रस्तुति देलीह। ममता रानी आ दयारानी आमात्य द्वारा मैथिल पिछड़ावर्ग महिला समाज केर सांस्कृतिक झाँकी सहित नगर परिक्रमा करैत कार्यक्रम मे सहभागिता एहि बेरुक कार्यक्रमक एकटा खास विलक्षण प्रस्तुतिक रूप मे गानल गेल।
सांस्कृतिक कार्यक्रमक संग महिला मे घरैया लूरि केँ प्रोत्साहित करबाक लेल पेन्टिंग सँ लैत सिक्की कला आदिक संवर्धन-संरक्षण हेतु सेहो निरन्तर प्रयास होइत रहल अछि। एहि बेर सकुन्तला साह केर नेतृत्व मे सिक्की सँ बनल समान मौनी, पौती, दीप-स्टैन्ड, आदि केर प्रदर्शनी कैल गेल छल। श्रीमती साह द्वारा एहि कला केँ प्रशिक्षण नव पीढी मे करबाक सेहो वचनबद्धता प्रकट कैल गेल छल।
14वृहत् मधेसी नागरिक समाज केर केन्द्रीय अध्यक्ष सूर्यनाथ सिंह द्वारा कार्यक्रमक संयोजन केर भरपूर प्रशंसा कैल गेल आ मधेसी-उत्पीडित-पिछड़ल समाज केरर उत्थान मे एहि तरहक कार्यक्रम बड पैघ योगदान देत ताहि तरहक विश्वास सेहो प्रकट कैल गेल छल। संपूर्ण कार्यक्रम मे संगीत संयोजन राजेश राय केर टोली द्वारा तथा सांस्कृतिक मंचक संयोजन राधा मंडल द्वारा कैल गेल छल।
कार्यक्रमक संयोजिकाक संग अध्यक्षता स्वयं वसुन्धरा झा द्वारा कैल गेल। मैथिली जिन्दाबाद सँ बात करैत ओ समस्त सहयोगी समाज प्रति धन्यवाद ज्ञापन करैत अत्यन्त कम समय मे अत्यधिक सहयोग तथा प्रोत्साहन लेल श्रीमती राजलक्ष्मी गोल्छा, ताराचन्द खेतान, दीनबन्धु गोयल, पवन शारडा, वैष्णवी पुस्तक भंडार केर आनन्द पाण्डे, पूनम देव तथा ई. प्रेमचन्द्र झा केँ विशेष धन्यवाद ज्ञापन केलीह।

आगामी समय मे सेहो एहि कार्यक्रमक महत्व एतबे गणनीय होएबाक पूर्ण आशा संपूर्ण विराटनगर समाज द्वारा राखल जा रहल अछि।                                                           स्रोत; मैथिली जिन्दाबाद

गणेश युवा कमिटिक पद हस्तान्तरण तथा सपथ ग्रहण कार्यक्रम सम्पन्न

जनकपुर | जनकपुरक गणेश युवा कमिटिक नव कार्यसमितिक पद हस्तान्तरण तथा सपथ ग्रहण कार्यक्रम  सम्पन्न भेल अछि । शनिदिन जनकपुरमे आयोजित एक कार्यक्रमके बीच कमिटिक छठम कार्यसमितिक पदाधिकारी एवम सदस्य पद तथा गोपनीयताक शपथ लेलन्हि अछि ।नेकपा एमाले नेता रघुविर महासेठक प्रमुख आतिथ्यमे सम्पन्न कार्यक्रममे कमिटिक अध्यक्ष दिपक भगत नव निर्वाचित अध्यक्ष राजेश भण्डारीके पद तथा गोपनीयताक शपथ दिओने छलथि ।
तहिना कमिटिक विधान एवम परम्परा अनुसार नव निर्वाचित अध्यक्ष भण्डारी अपन नव निर्वाचित कार्यसमितिक पदाधिकारी एवम सदस्यसभके पद तथा गोपनीयताक शपथ दिओने छलखिन्ह । दु वर्षक कार्यकाललेल गत वैशाख १४ गते कमिटिक नव कार्यसमितिके चयन सर्वसहमतिसँ कएलगेल छल ।
कमिटिक अध्यक्षमे भण्डारी, उपाध्यक्षमे विकेश पंजियार, महासचिवमे रंजन जयसवाल, सचिवमे भरतकुमार साह आ कोषाध्यक्षमे संजयकुमार साह निर्वाचित भेल छथि । तहिना दिलिप गुप्ता, नरेन्द्र विक्रम साह, गोविन्द भगत, मुन्ना नागवंशी, भरत महासेठ आ रवि शर्मा नव कार्यसमितिक सदस्यमे निर्वाचित भेल छथि । २०५५ सालमे स्थापना भेल गणेश युवा कमिटि विभिन्न समाजिक कार्य करैत आबि रहल अछि ।
कार्यक्रममे जनकपुर उधोग वाणिज्य संघक अध्यक्ष शिवशंकर साह हिरा, समाजसेवी प्रकाशचन्द्र साह, सेभ द हिस्टोरिकल जनकपुरक अध्यक्ष रामअशिष यादव, जनकपुर उधोग वाणिज्य संघक पूर्व अध्यक्ष निर्मल चौधरी, वाणिज्य संघक निवर्तमान महासचिव ललितकुमार साह सहितक व्यक्तिसभ सम्बोधन कएने छलथि ।